अमेरिकियों का उतरा एक और नकाब

विकीलीक्स ने फिर धमाका किया है. जिसकी हर किसी को उम्मीद रही होगी, अब विकीलीक्स ने पुष्टि कर दी है. अमेरिकी खुफिया एजेंसी एनएसए फ्रांस के राष्ट्रपतियों की जासूसी करती रही है. क्या बातें पता थीं एनएसए को?

फ्रांस के उदारवादी दैनिक लिबरास्यों का कहना है कि पहली बार इस बात के अकाट्य सबूत हैं कि अमेरिका ने कम से कम 2002 से निजी टेलिफोनों की निगरानी में फ्रांस के राष्ट्रपतियों को भी शामिल कर लिया. फ्रांसीसी सहयोगियों पर अमेरिकियों के संदेह के बावजूद इस बात में बहुत अंतर है कि आप फ्रांस के परमाणु कार्यक्रम के बारे में जानना चाहते हैं या सारकोजी और ओलांद के निजी टेलिफोन को सुनते हैं. विकीलीक्स के नए रहस्योद्घाटन से एक और नकाब उतर गया है.

नकाब उतरा तो अमेरिका की खुफियागिरी की हदों का पता तो चला ही, यह भी मालूम हुआ कि उन्हें फ्रांस के राष्ट्रपतियों से क्या पता चला. विकीलीक्स ने दस्तावेज अपने पेज पर डाले हैं. टॉप सीकरेट बताए गए 22 मई 2012 के एक नोट से पता चलता है कि राष्ट्रपति फ्रांसोआ ओलांद ने यूरोजोन से ग्रीस के बाहर निकलने के परिणामों पर गुप्त बैठकों की अनुमति दी थी. ओलांद ने सत्ता संभालने के कुछ ही दिन बाद जर्मनी की सोशल डेमोक्रैटिक पार्टी के साथ गुप्त बैठक भी तय की थी. प्रधानमंत्री जाँ मार्क एरो ने कूटनीतिक समस्याओं की वजह से बैठक को गोपनीय रखने की चेतावनी दी थी.

इस नोट के अनुसार चांसलर अंगेला मैर्केल से मिलने के बाद ओलांद ने शिकायत की थी कि भेंट से कुछ भी काम का नहीं निकला. चांसलर ग्रीस पर तय रवैया रखती हैं और समझौते के लिए तैयार नहीं हैं. नोट का कहना है कि इसने ओलांद को ग्रीस और ग्रीक जनता के लिए चिंतित कर दिया, जो उनके अनुसार चरमपंथी पार्टी के लिए वोट कर सकते थे.

एक अन्य नोट में सारकोजी के बारे में जानकारी दी गई है और कहा गया कि वे अपने को अकेला ऐसा व्यक्ति मानते हैं जो विश्व आर्थिक संकट का हल दे सकता है. 2008 के इस नोट में बताया गया है कि निकोला सारकोजी किस तरह से विश्व वि्ततीय संकट को सुलझाने को यूरोप और दुनिया के लिए अपनी जिम्मेदारी समझते थे. सारकोजी का विश्वास था कि फ्रांस की ईयू अध्यक्षता और अमेरिका की निष्क्रियता के कारण वे अकेले हैं जो यह काम कर सकता है. नोट के अनुसार सारकोजी ने बहुत सारी आर्थिक समस्याओं के लिए अमेरिका की गलतियों को जिम्मेदार ठहराया लेकिन साथ ही "विश्वास जताया कि अमेरिका अब उनकी कुछ सलाह को मान रहा है."

24 मार्च 2010 के एक नोट में कहा गया है कि सारकोजी ने प्रस्तावित द्विपक्षीय खुफिया सहयोग संधि में देरी के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से अपनी निराशा जताने की योजना बनाई थी. विवाद का मुख्य मुद्दा फ्रांस में जासूसी करते रहने की अमेरिका की इच्छा थी. 2011 के एक दूसरे नोट में कहा गया है कि सारकोजी इस्राएल और फलीस्तीनियों के बीच मुख्य शक्तियों की कम दिलचस्पी के बावजूद सीधी शांति वार्ता शुरू कराने के इच्छुक थे. वे इसके लिए संभावित संयुक्त पहल के बारे में रूसी राष्ट्रपति दिमित्री मेद्वेदेव से अपील करना चाहते थे. फलीस्तीनी राज्य के मुद्दे पर वे ओबामा को चेतावनी भी देना चाहते थे.

एमजे/एसएफ (डीपीए, एएफपी)

मशहूर डबल एजेंट

007

जेम्स बॉन्ड की कहानियों की डबल एजेंट अक्सर खूबसूरत और उत्तेजक महिलाएं होती हैं, जो दोहरी जासूसी करती हैं. उनका अहम उद्देश्य होता है, जेम्स बॉन्ड 007 की जान लेना. हालांकि अभी तक एक भी कहानी में वो ऐसा कर नहीं सकीं.

मशहूर डबल एजेंट

माता हारी

नीदरलैंड्स की मार्गरेटा गैट्रुइडा सेले इतिहास की खूबसूरत डांसर. वह जर्मनी और फ्रांस के लिए जासूसी करती थीं. जर्मनी से आया एक टेलीग्राम उनकी मुश्किल बन गया, फ्रांस को उन पर संदेह हुआ. 1917 में 24, 25 जुलाई को उनकी बंद दरवाजों में सुनवाई हुई और उसी साल 15 अक्टूबर को उन्हें मार दिया गया.

मशहूर डबल एजेंट

खुआन पुयोल गार्सिया

ब्रिटेन के लिए गार्बो नाम से जासूसी करने वाले इस व्यक्ति ने खुद को नाजी समर्थक स्पेनी सरकारी अधिकारी बताया. उन्होंने जर्मन सरकार को विश्वास दिलाया कि डी डे का हमला केले शहर के पास होगा, जबकि वो हुआ नॉर्मैंडी में.

मशहूर डबल एजेंट

द कैम्ब्रिज फाइव

रूस की खुफिया सेवा केजीबी ने दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान जासूसों का एक ग्रुप कैम्ब्रिज फाइव बनाया. इसमें किम फिल्बी, डोनाल्ड मैक्लीन और एंथोनी ब्लंट थे. पांचवें का पता नहीं चला. ये ब्रिटेन की आंतरिक खुफिया एजेंसी एमआई5 से भी जुड़े थे. युद्ध के दौरान उन्होंने रूस को गठबंधन सेना के बारे में जानकारी दी.

मशहूर डबल एजेंट

डेनिस डोनाल्डसन

उत्तरी आयरलैंड के डोनाल्डसन ब्रिटिश खुफिया सेवा एमआई5 को सूचना देते थे. साथ ही वह आइरिश रिपब्लिकन आर्मी और वहां की रिपब्लिकन पार्टी सिन फेन के भी सदस्य थे. 4 अप्रैल 2006 को वह मृत पाए गए. उनकी गोली मार कर हत्या की गई थी. कारणों का पता नहीं चल सका.

मशहूर डबल एजेंट

वाल्टर बार्थेल

पत्रकार बार्थेल ने पूर्वी जर्मनी की जासूसी सेवा श्टासी के लिए शुरू की. बाद में उन्होंने पश्चिम जर्मनी के एक अखबार, डेर द्रिटे वेग के लिए भी काम करना शुरू किया. 2003 में उनकी मौत हुई.

मशहूर डबल एजेंट

ताजी जासूसी

ताजा दौर की सनसनीखेज जासूसी के बारे में अगर सोचें तो एडवर्ड स्नोडन का नाम याद आता है. जो अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) में काम करते थे और जब वो हॉन्गकॉन्ग पहुंचे तो उनके साथ अमेरिकी जासूसी के कई राज दुनिया के सामने खुले.

मशहूर डबल एजेंट

कहानियों में

जेम्स बॉन्ड से भी पहले आर्थर कैनन डायल का कैरेक्टर शरलॉक होम्स अपनी जासूसी के लिए काफी मशहूर हुआ. उनकी कहानियों पर भी फिल्में बनीं.

मशहूर डबल एजेंट

रोमांचक दुनिया

जासूसी की दुनिया रोमांचक है. वॉशिंगटन और लंदन में तो अंतरराष्ट्रीय जासूसी संग्रहालय हैं जो जासूसों, उनके कैमरे, पेन, चश्मे और काम के तरीकों पर विस्तार से नजर डालते हैं.

संबंधित सामग्री

हमें फॉलो करें