टीम इंडिया के लिए मैच में जीत ज़रूरी

वर्ल्ड कप ट्वेन्टी 20 में सुपर 8 के पहले मुकाबले में बुरी तरह हार के बाद भारत को रविवार को वेस्ट इंडीज के खिलाफ हर हाल में जीत हासिल करनी होगी. टीम इंडिया को बल्लेबाजी पर ध्यान देना होगा, जो पिछले मैच में लड़खड़ा गई थी.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सुपर 8 का पहला मुकाबला भारत 49 रन से हार गया था. वहीं दूसरी तरफ वेस्ट इंडीज भी पहला मुकाबला श्रीलंका के हाथों बुरी तरह हार चुका है और मेजबान टीम के लिए भी रविवार का मैच उतना ही अहम है, जितना भारत के लिए.

महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम इंडिया शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजों को नहीं झेल पाई और टीम के लिए राहत की बात यह है कि वेस्ट इंडीज की टीम में उस तरह

ऑस्ट्रेलिया से शर्मनाक हार

के तेज गेंदबाज नहीं हैं. टीम इंडिया कंगारुओं के खिलाफ सिर्फ 17 ओवर में ऑल आउट हो गई थी.

भारत को अपनी बल्लेबाजी पर खासा ध्यान देना होगा. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में रोहित शर्मा को छोड़ कर टीम के सभी दिग्गज सितारे फ्लॉप साबित हुए और कप्तान धोनी भी नहीं चल पाए. साथ ही भारत की गेंदबाजी भी नाकाम रही और पहला विकेट लेने से पहले उन्हें 106 रन का इंतजार करना पड़ा. रवींद्र जडेजा ने सिर्फ दो ओवर में 38 रन दे दिए, जिनमें लगातार छह गेंदों पर छह छक्के भी शामिल थे. ऐसे में टीम इंडिया को तूफानी सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग की भी कमी खल रही होगी.

सहवाग की ग़ैर मौजूदगी में भारत को एक बार फिर मुरली विजय से पारी की शुरुआत करानी होगी. विजय तकनीकी रूप से तो अच्छे बल्लेबाज हैं लेकिन उनमें अनुभव की कमी है. गौतम गंभीर टीम में लौट चुके हैं.

विंडीज़ कप्तान क्रिस गेल

भारतीय टीम में एक गेंदबाज की कमी हमेशा खलती है, जिसे पार्ट टाइम स्पिन बॉलरों से पूरी की जाती है. क्रिकेट के जानकारों का मानना है कि पार्ट टाइम गेंदबाज एक दो मैच तो जिता सकते हैं, लेकिन लगातार जीत के लिए नियमित गेंदबाजों की ज़रूरत होती है.

दूसरी तरफ क्रिस गेल की अगुवाई में वेस्ट इंडीज की टीम भी जी जान लगा देने की कोशिश करेगी. विंडीज भी सुपर 8 में अपना पहला मुकाबला श्रीलंका से 57 रन से हार गया था और वह अपने घर में खेलते हुए स्थानीय दर्शकों को बेहतर परिणाम देने की कोशिश करेगा.

गेल का कहना है, "हम लोग मैच के पहले विस्तार से बातचीत करेंगे और अपने प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे. यह दोनों ही टीमों के लिए करो या मरो का मैच है, लिहाज़ा एक अच्छा मुकाबला हो सकता है."

भारत और ऑस्ट्रेलिया का मैच देखने के बाद गेल का कहना है कि वह गेंदबाजी पर खास ध्यान देंगे और तेज गेंदों से भारतीय बल्लेबाजों को चकमा देने की कोशिश की जाएगी. गेल ने कहा, "हमने भारत और ऑस्ट्रेलिया का मैच देखा. हम उस विकल्प पर ध्यान देंगे. लेकिन साथ ही आपको योजनाबद्ध तरीके से गेंदबाजी करनी होगी. मैं समझता हूं कि भारत के पास बेहतरीन बल्लेबाज हैं जो स्थिति के अनुसार तुरंत खुद को एडजस्ट कर सकते हैं."

दूसरी ओर श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के बीच मुकाबला होगा. इस मैच को जीतने वाली टीम सेमीफ़ाइनल में जगह बना लेगी.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः एम गोपालकृष्णन

हमें फॉलो करें