पाकिस्तान ने शांति की बात कह मिसाइल का परीक्षण किया

आम चुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत के बीच पाकिस्तान ने मिसाइल का परीक्षण किया है और साथ ही कहा है कि वह भारत के साथ शांतिवार्ता शुरू करना चाहता है.

भारत के आम चुनाव पर पाकिस्तान के साथ तनाव का भी साया था, खासतौर से सत्ताधारी दल ने इसे मुद्दा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी. अब पाकिस्तान ने नई सरकार के साथ बातचीत की इच्छा जताते हुए मिसाइल का परीक्षण किया है.

पाकिस्तान ने सतह से सतह पर मार करने वाली शाहीन 2 का परीक्षण किया है. यह मिसाइल पारंपरिक हथियारों के साथ ही परमाणु हथियार भी ले जाने में सक्षम है. इसकी रेंज करीब 2250 किलोमीटर बताई जा रही है. पाकिस्तान की सेना ने कहा है, "शाहीन 2 उच्च क्षमता वाला मिसाइल है जो पाकिस्तान की इलाके में स्थिरता बनाए रखने के लिए रणनीतिक जरूरतों को पूरा करता है."

बुधवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में अपने भारतीय समकक्ष के साथ एक छोटी मुलाकात की थी. यह मुलाकात शंघाई सहयोग संगठन की बैठक के दौरान अलग से हुई. मुलाकात के बाद कुरैशी ने कहा, "हम कभी कड़वी बात नहीं कहते, हमें दो अच्छे पड़ोसियों की तरह रहना चाहिए और सभी विवादित मुद्दों को बातचीत के जरिए सुलझाना चाहिए."

दोनों देशों के बीच पिछले कुछ समय से तनाव बढ़ा हुआ है. खासतौर से पुलवामा हमले के बाद दोनों देश युद्ध जैसी स्थिति में पड़ गए थे. आतंकवादी हमले में बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों की मौत के बाद भारत ने पाकिस्तान के इलाके में जा कर आतंकवादी गुट जैश ए मोहम्मद के कथित ट्रेनिंग कैंप पर हमला किया. इस संगठन ने पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली थी. इसके बाद पाकिस्तान ने भी अपने लड़ाकू विमानों को भारत की सीमा में भेजा. इस दौरान भारत का एक विमान गिर गया और उसके पायलट को पाकिस्तान की सेना ने पकड़ लिया.

पाकिस्तान ने मिसाइल परीक्षण ऐसे दिन किया है जब भारत में चुनाव के नतीजे आए हैं.

अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद पाकिस्तान ने पायलट को भारत को सौंप दिया और उसके बाद आगे हमले भी रोक दिए. हालांकि तनाव अभी भी बना हुआ है और दोनों पक्षों की तरफ से बीच बीच में गोलाबारी हुई है. पाकिस्तान ने अपनी वायुसीमा भी बंद कर रखी है. इस वजह से भारत आने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लंबा रास्ता लेना पड़ रहा है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान कई बार भारत के साथ बातचीत करने की पेशकश कर चुके हैं. अधिकारियों का कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि चुनाव खत्म होने के बाद दोनों देशों के बीच बातचीत शुरू होगी. इमरान खान ने पिछले महीने खुद ही कहा था कि अगर नरेंद्र मोदी और बीजेपी की सत्ता में वापसी होती है तो बातचीत शुरू होने के ज्यादा आसार हैं.

एनआर/एमजे (रॉयटर्स)

_______________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

1947

भारत और पाकिस्तान के बीच पहला युद्ध दोनों की आजादी के महज दो महीने बाद अक्टूबर 1947 में शुरू हुआ. कश्मीर में कबायली हमले के बाद यह जंग शुरू हुई. तब से आज तक कश्मीर पर दोनों देश अपना दावा करते हैं.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

1965

दोनों पड़ोसियों के बीच दूसरी जंग 1965 में हुई. कश्मीर मुद्दे को लेकर शुरू हुई इस लड़ाई के दौरान भारत ने पंजाब का फ्रंट खोल दिया. भारतीय फौज पाकिस्तानी पंजाब में काफी अंदर तक दाखिल हो चुकी थी. उसके बाद युद्ध विराम हुआ.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

1971

पश्चिमी पाकिस्तान ने पूर्वी पाकिस्तान के लोकतांत्रिक जनविद्रोह को दबाने के लिए सेना का इस्तेमाल किया. भारतीय सेना ने जनविद्रोहियों का समर्थन किया. इस युद्ध में पाकिस्तान की हार हुई और बांग्लादेश का जन्म हुआ.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

1999

दोस्ती और अमन की ऐतिहासिक कोशिशों के दौरान पाकिस्तान की सेना ने 1999 में भारतीय इलाके में घुसकर कारगिल की चोटियों पर कब्जा कर लिया. इसके बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तानी सेना को वापस भेजा.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

2001

अक्टूबर 2001 में भारत प्रशासित कश्मीर की विधानसभा में आतंकी हमला हुआ, इसमें 38 लोग मारे गए. इस हमले के दो महीने बाद नई दिल्ली में भारतीय संसद पर भी इसी तरह का आतंकवादी हमला हुआ, जिसमें 14 लोगों की मौत हुई.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

2008

नवंबर 2008 में भारत में सबसे बड़ा आतंकवादी हमला हुआ. समंदर के रास्ते पाकिस्तान से भारत में दाखिल हुए आतंकवादियों के गुट ने मुंबई में रेलवे स्टेशन, रेस्तरां, फाइव स्टार होटल, यहूदी सेंटर को निशाना बनाया और 166 लोगों की जान ले ली.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

2016

जनवरी 2016 में भारतीय वायुसेना के पठानकोट एयरबेस पर आतंकवादी हमला हुआ. हमले में सात भारतीय सैनिकों और छह हमलावरों की मौत हुई.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

2016

भारत प्रशासित कश्मीर के उरी सेक्टर में भारतीय सेना के ठिकाने पर हमला हुआ. 19 भारतीय जवान मारे गए.

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

2019

भारतीय कश्मीर के पुलवामा जिले में आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 40 जवान मारे गए

कब कब टकराए भारत और पाकिस्तान

2019

पुलवामा हमले के 12 दिन बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले किए.

हमें फॉलो करें