मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

'खुल कर पादो' क्लब

इस जर्मन क्लब का नाम है "फुर्त्स डिष फ्राय" यानी खुल कर पादिए. ये हंसी मजाक में व्यस्त रहने वाला कार्निवाल क्लब है. इस के अध्यक्ष जब मुख्यधारा की राजनीति में सक्रिय हुए तो लोगों ने उनसे इस्तीफे की मांग की.

मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

मोटरबाइक पर पिंक बनी

स्ट्रीटबनीक्रू जर्मनी का सबसे बड़ा चैरिटी मोटरसाइक्लिस्ट संघ है. फंड जुटाने के लिए इसके सदस्य गुलाबी रंग वाली खरगोश पोशाक पहनते हैं और मोटरसाइकिल चलाते हैं. ये जब जब सड़कों पर आते हैं तब तब मीडिया में भी इनकी चर्चा होती है.

मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

लंबुओं का क्लब

लंबे लोगों के क्लब का नाम है, "क्लुब लांगेर मेनषन." इस क्लब की सदस्यता लेने वाली महिलाओं की न्यूनतम लंबाई 5 फुट 11 इंच और पुरुषों की 6 फुट तीन इंच होनी चाहिए. यह क्लब पूरे यूरोप में अपने इवेंट करता है.

मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

चीनी जुटाओ क्लब

जर्मनी में करीब 150 शुगर कलेक्टर्स हैं, इन्हें शुगरोलॉजिस्ट यानी चीनी विशेषज्ञ भी कहा जाता है. इस क्लब के सदस्य दुनिया भर के देशों से चीनी के सैंपल जुटाते हैं. 14,502 सैंपलों वाले राल्फ श्रोएडर का नाम तो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में भी दर्ज है.

मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

बॉबी कार रेसर

1972 में जर्मनी में बच्चों के लिए छोटी कार बनाई गई. इसे बॉबी कार नाम दिया गया. लेकिन 1990 के दशक में कुछ लोगों ने तीखी ढलान पर इन कारों की रेस कर नई प्रतियोगिता शुरू कर दी और एक क्लब भी बना दिया. रेस में सबसे ज्यादा रफ्तार हासिल करने वाला जीतता है. 2018 में 119 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार का रिकॉर्ड बना.

मेम्बरशिप के लिए खुले हैं जर्मनी के ये क्लब

नत्थूलालों का क्लब

जर्मनी में जबरदस्त दाढ़ी मूंछ रखने वालों के कई संघ हैं. युर्गेन बुर्कहार्ट (दाएं) कई बार वर्ल्ड चैंपियन रह चुके हैं. वह "बेले मुश्टाषे" क्लब के संस्थापक भी हैं. (रिपोर्ट: एलिजाबेथ ग्रेनियर)

पादने या उदर वायु छोड़ने में शर्म कैसी? जर्मनी में इसके लिए वकालत करने वाला एक संघ है. अजीब से शौकों वाले ऐसे कई क्लब जर्मनी में मौजूद हैं. क्या आप भी इनमें से किसी क्लब के सदस्य बनना चाहेंगे?

हमें फॉलो करें