लाम से लामबंद हुई जर्मन जनता

जर्मनी के अंदर बालाक का युग खत्म हो गया लगता है. देश की 60 फीसदी जनता चाहती है कि युवा डिफेंडर फिलिप लाम राष्ट्रीय टीम की कप्तानी करें और सर्फ एक चौथाई लोग बालाक के साथ हैं, जो विश्व कप भी नहीं खेल पाए और विवाद में हैं.

टीम के शायद सबसे छोटे कद के खिलाड़ी 26 साल के फिलिप लाम ने जिस तरह से युवा जर्मन फुटबॉल टीम को फीफा विश्व कप के सेमीफाइनल तक पहुंचाया, उससे लोगों को बड़ी आस बंधी है और जर्मनी के लोग चाहते हैं कि अब कप्तान की पट्टी लाम के ही बाजू पर चमके.

समाचार एजेंसी एएफपी की सहायक जर्मन खेल एजेंसी एसआईडी ने एक सर्वे किया है, जिसमें 60.3 फीसदी लोग लाम को कप्तान के तौर पर बने देखना चाहते हैं. नियमित कप्तान 33 साल के बालाक के पक्ष में सिर्फ 26.2 फीसदी लोग हैं. टखने में चोट की वजह से जर्मन राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के सबसे वरिष्ठ सदस्य मिषाएल बालाक इस साल के वर्ल्ड कप से बाहर हो गए और इसके साथ ही उनके करियर का सबसे बुरा दौर शुरू हो गया.

बलाक का दौर खत्म!

सबसे पहले इंग्लिश प्रीमियर लीग चेल्सी ने उन्हें अपनी टीम से निकाल बाहर किया. चार साल चेल्सी से खेलने के बाद उनका कांट्रैक्ट नहीं बढ़ाया गया और बालाक को जर्मन फुटबॉल लीग की औसत टीम बायर लेवरकूजन में लौटना पड़ा. उनकी गैरमौजूदगी में लाम ने राष्ट्रीय टीम का शानदार नेतृत्व किया और कहा जाने लगा कि बालाक की जगह लाम बेहतर हैं. लाम ने खुद विश्व कप के दौरान एक बार कह दिया कि वह अपने बाजू पर कप्तान की पट्टी बांधे रहना चाहते हैं.

हालांकि बालाक ने बाद में कहा कि कप्तान तो वही हैं और लाम सिर्फ उनकी अनुपस्थिति में टीम का नेतृत्व कर सकते हैं. बालाक अभी इन झटकों से उबर भी नहीं पाए कि उन पर जर्मनी की विज्ञापन दुनिया में सबसे बिकाऊ स्टार का तमगा छिन गया. इतना ही नहीं, जर्मनी के एक फुटबॉलर ने यहां तक इलजाम लगा दिया कि तीन बच्चों के बाप बालाक ने उनकी गर्लफ्रेंड के साथ ओछी हरकत की है. क्रिस्टियान लेल नाम के इस फुटबॉलर की गर्लफ्रेंड गर्भवती है.

एसआईडी के सर्वे के मुताबिक अब बालाक जर्मनी के सबसे प्रतिभावान फुटबॉलर भी नहीं रह गए हैं. जर्मन फुटबॉल लीग बुंडेसलीगा की सबसे कामयाब टीम बायर्न म्यूनिख के बास्टियन श्वान्सटाइगर सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं. उनके पास 20.9 फीसदी वोट हैं. दूसरे नंबर पर लाम (13.4 प्रतिशत वोट) और तीसरे पर म्यूनिख के ही थॉमस म्यूलर हैं. बालाक को चौथा नंबर ही मिल पाया है.

तो क्या जिनेदिन जिदान और डेविड बेकहम से तुलना किए जाने वाले पिछले 12 साल के जर्मनी के सबसे आकर्षक मिडफील्डर बालाक के बूट टांग देने का वक्त आ गया है.

रिपोर्टः एएफपी/ए जमाल

संपादनः ओ सिंह

हमें फॉलो करें