सिंगल्स को मिंगल कराएगी सिंगापुर सरकार

लगातार घटती आबादी के संकट से जूझ रहे सिंगापुर की सरकार ने अकेले रह रहे शर्मीले य़ुवाओं को डेटिंग के लिए प्रेरित करने की एक खास पहल की है. जिससे शर्मो-हया के मारे नौजवान एक दूसरे से मिलने और शादी के लिए प्रेरित हो सकें.

लगभग 50 लाख की आबादी वाले सिंगापुर में 10 लाख विदेशी हैं जो सिर्फ काम के सिलसिले में रह रहे हैं. हाल ही में प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग ने भी लोगों से अंधविश्वासों को छोड़ कर अधिक से अधिक बच्चे पैदा करने की अपील की थी. हालांकि सरकार इससे पहले भी युवाओं को रोमांस और शादी के लिए प्रेरित करने वाले तमाम प्रयास कर चुकी है लेकिन ये सब नाकाम रहे.

रिपोर्टः एजेंसियां निर्मल

संपादनःएम गोपालकृष्ण

लाइफस्टाइल | 11.08.2010

सामुदायिक विकास, युवा एवं खेल मामलों के मंत्रालय को देश में लगातार घटती जन्म और विवाह दर से परेशान होकर यह पहल करनी पडी़ है. इसके तहत मंत्रालय की वेबसाइट पर बाकायदा टेंडर जारी कर संचार एजेंसियों से एक कारगर योजना बनाने और लागू करने को कहा गया है.

इसके लिए 20 से 35 साल तक के युवाओं के लिए अपने तरह का ऐसा विज्ञापन बनाया जाएगा जिसे देखते ही वे साथी की तलाश में जुट जाएं. इस कवायद का मकसद काम धंधे की आपाधापी में मशगूल युवाओं की सोच बदल कर उन्हें घर गृहस्थी की ओर उन्मुख करना है. गौरतलब है कि सिंगापुर में शादी और जन्म दर में गिरावट चिंताजनक स्तर पर आ गई है.

सरकारी आंकडो़ के मुताबिक शादी की दर 2009 में 6.6 प्रति 1000 और प्रजनन दर 1.23 प्रतिशत के अब तक के न्यूनतम स्तर पर आ गई है. आबादी का सामान्य स्तर बनाए रखने के लिए प्रजनन दर 2.1 प्रति महिला होना चाहिए.

लगभग 50 लाख की आबादी वाले सिंगापुर में 10 लाख विदेशी हैं जो सिर्फ काम के सिलसिले में रह रहे हैं. हाल ही में प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग ने भी लोगों से अंधविश्वासों को छोड़ कर अधिक से अधिक बच्चे पैदा करने की अपील की थी. हालांकि सरकार इससे पहले भी युवाओं को रोमांस और शादी के लिए प्रेरित करने वाले तमाम प्रयास कर चुकी है लेकिन ये सब नाकाम रहे.

रिपोर्टः एजेंसियां निर्मल

संपादनःएम गोपालकृष्ण

सामुदायिक विकास, युवा एवं खेल मामलों के मंत्रालय को देश में लगातार घटती जन्म और विवाह दर से परेशान होकर यह पहल करनी पडी़ है. इसके तहत मंत्रालय की वेबसाइट पर बाकायदा टेंडर जारी कर संचार एजेंसियों से एक कारगर योजना बनाने और लागू करने को कहा गया है.

इसके लिए 20 से 35 साल तक के युवाओं के लिए अपने तरह का ऐसा विज्ञापन बनाया जाएगा जिसे देखते ही वे साथी की तलाश में जुट जाएं. इस कवायद का मकसद काम धंधे की आपाधापी में मशगूल युवाओं की सोच बदल कर उन्हें घर गृहस्थी की ओर उन्मुख करना है. गौरतलब है कि सिंगापुर में शादी और जन्म दर में गिरावट चिंताजनक स्तर पर आ गई है.

सरकारी आंकडो़ के मुताबिक शादी की दर 2009 में 6.6 प्रति 1000 और प्रजनन दर 1.23 प्रतिशत के अब तक के न्यूनतम स्तर पर आ गई है. आबादी का सामान्य स्तर बनाए रखने के लिए प्रजनन दर 2.1 प्रति महिला होना चाहिए.

लगभग 50 लाख की आबादी वाले सिंगापुर में 10 लाख विदेशी हैं जो सिर्फ काम के सिलसिले में रह रहे हैं. हाल ही में प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग ने भी लोगों से अंधविश्वासों को छोड़ कर अधिक से अधिक बच्चे पैदा करने की अपील की थी. हालांकि सरकार इससे पहले भी युवाओं को रोमांस और शादी के लिए प्रेरित करने वाले तमाम प्रयास कर चुकी है लेकिन ये सब नाकाम रहे.

रिपोर्टः एजेंसियां निर्मल

संपादनःएम गोपालकृष्ण

हमें फॉलो करें